विदेशी मुद्रा विश्वकोश

इंडिकेटर्स

इंडिकेटर्स

जमशेदपुर में डीसी विजया जाधव का जिले के एनजीओ के साथ बैठक, कहा- शहर के विकास के लिए सभी एक साथ करें काम

Thumbnail image

पूर्वी सिंहभूम डीसी विजया जाधव ने जिले के तमाम एनजीओ के साथ बैठक की, जिसका मुख्य उद्देश्य जिले में विकास के लिए कार्य कर रहे संस्थाओं को एक प्लेटफॉर्म देना था. ताकि जिले में सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स के महत्वपूर्ण इंडिकेटर्स में सुधार आ सके.

जमशेदपुर: पूर्वी सिंहभूम जिला उपायुक्त विजया जाधव ने जिला में कार्यरत विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक की. बैठक पूर्वी सिंहभूम जिला समाहरणालय के सभागार में शुक्रवार को आयोजित हुई. इस बैठक का मुख्य उद्देश्य जिले की सामाजिक एवं आर्थिक गति को लेकर विभिन्न एनजीओ द्वारा अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर किए जा कार्यों को एक मंच देना था, जिसमें जिला प्रशासन भी मुख्य सहयोगी के रूप में सम्मिलित होगा.

गरीबों के समस्याओं का समाधान: डीसी विजया जाधव ने कहा कि सभी एनजीओ किसी न किसी रूप से जिले की विकास में अपना योगदान दे रहे हैं. ऐसे में जरूरी है कि आकांक्षी जिला के इंडिकेटर्स पर कार्य कर रहे अलग-अलग एनजीओ का महत्वपूर्ण सहयोग, परामर्श और तकनीक का आदान प्रदान हो, जिससे जिले के सामाजिक व आर्थिक विकास की गति की दर को बढ़ाने में मदद मिल सके. जिला उपायुक्त ने कहा कि टार्गेट ग्रूप को चिन्हित करते हुए कई सहयोगी जब एक साथ कार्य करने के लिए आगे आएंगे तो निश्चित ही मजबूती से काम किया जा सकेगा. उन्होंने कहा कि विकास को समग्रता में देखना जरूरी है, जिसमें मानव संसाधन, प्राकृतिक संसाधन, सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक और नैतिक व ढांचागत विकास शामिल हो. विकास के इन विभिन्न आयामों में गरीब, उपेक्षित, पिछड़े वर्ग और संसाधन हीन की आवश्यकताओं एवं समस्याओं का समाधान प्रमुख रूप से परिलक्षित हों.

सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स में आ सकते हैं बदलाव: डीसी विजया जाधव ने कहा कि हमारे सामूहिक प्रयास से सतत विकास लक्ष्य यानी सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (Sustainable Development Goals) के महत्वपूर्ण इंडिकेटर जैसे स्वास्थ्य, शिक्षा, महिला सशक्तिकरण, जेंडर और आजीविका के क्षेत्र में बड़ा बदलाव आ सकता है. बैठक में जिला स्तरीय एक समन्वय समिति बनाने पर सहमती बनी, जिसमें अन्य छूटे हुए गैर सरकारी संस्थाओं, महिलाओं, किसानों के प्रतिनिधित्व को लेकर एक स्थायी जिला स्तरीय कमेटी बनाई जाएगी. यह कमेटी जिला प्रशासन को आवश्यक सहयोग एवं सुझाव प्रदान करेंगे. बैठक में निदेशक डीआरडीए सौरभ सिन्हा, निदेशक एनईपी ज्योत्सना सिंह समेत अन्य कई उपस्थित थे.

म्यूचुअल फंड की स्कीम में कौन कौन से रिस्क इंडीकेटर्स होते हैं?

म्यूचुअल फंड की स्कीम में कौन कौन से रिस्क इंडीकेटर्स होते हैं?

अपनी मेहनत की कमाई को सही म्युचुअल फंड स्कीम में निवेश करने से पहले आपको अच्छी तरह से जांच करनी चाहिए। जबकि निवेशक अक्सर स्कीम की केटेगरी और सबसे अच्छा परफॉर्म करने वाली स्कीम में से चुनते हैं, वे इन स्कीमों के रिस्क इंडीकेटर्स को नज़रअंदाज़ कर देते हैं। जब आप स्कीमों की तुलना कर रहे हैं, तो उनके जोख़िमों की तुलना करना ना भूलें। हालांकि हर स्कीम की फैक्टशीट में स्टैंडर्ड डिविएशन, बीटा और शार्प रेश्यो जैसे कई रिस्क इंडिकेटर्स दिए जाते हैं, मगर देखा जाए तो प्रोडक्ट लेबल सबसे बेसिक चीज़ है। लेबल में दिया गया रिस्कोमीटर उस फंड के रिस्क के लेवल को दर्शाता है। यह रिस्कोमीटर SEBI की ओर से एक अनिवार्य आवश्यकता है और फंड से जुड़े अंतर्निहित/मुख्य जोखिम को दर्शाता है। निवेशक के पोर्टफोलियो में जोखिम के स्तर के आधार पर, कम, कम से मध्यम, मध्यम, मध्यम अधिक, अधिक और बहुत अधिक तक, जोखिम के छः स्तरों को म्यूचुअल फंड्स की विभिन्न श्रेणियों के साथ जोड़ा गया है।चूँकि इस किस्म का जोखिम वर्गीकरण SEBI द्वारा परिभाषित किया गया है, इसलिए सभी म्यूचुअल फंड्स समान प्रकार के फंड्स को जोखिम की एक ही श्रेणी में वर्गीकृत करने के लिए बाध्य हैं।

रिस्कोमीटर, जो आपको फंड के जोखिम का अवलोकन प्रदान करता है, इसके अलावा कोई व्यक्ति तथ्य-शीट में दिए गए अधिक विशिष्ट जोखिम संकेतक भी देख सकता है। स्टैंडर्ड डिविएशन किसी फंड में होने वाले मुनाफे की रेंज को आंकता है। किसी स्कीम में मुनाफे का उच्चतम स्टैंडर्ड डिविएशन इंडिकेटर्स इंडिकेटर्स दर्शाता है कि इसके परफॉरमेंस की रेंज बहुत बड़ी है, जिसका मतलब अस्थिरता भी ज़्यादा है।

शार्प रेशो फंड द्वारा उठाए गए प्रति यूनिट जोखिम के साथ उस फंड द्वारा प्रदान किए गए अतिरिक्त रिटर्न को मापता है। यह जोखिम-समायोजित रिटर्न का अच्छा संकेतक है।

अगली बार जब आप इस बारे में रिसर्च करें कि किस स्कीम में निवेश करना है, तो उपरोक्त जोखिम मापदंडों पर उसका मूल्यांकन करना न भूलें।

उम्मीद से बेहतर हो रहा इकॉनमी में सुधार, तमाम इंडिकेटर्स कर रहे इशारे

Indian economy in 2020: तमाम इंडिकेटर्स बता रहे हैं कि देश की अर्थव्यवस्था बहुत तेजी से सुधार के रास्ते पर बढ़ रही है। नवंबर के महीने में कंजप्शन और प्रोडक्शन के स्तर पर सुधार दिख रहे हैं.

उम्मीद से बेहतर हो रहा इकॉनमी में सुधार, तमाम इंडिकेटर्स कर रहे इशारे

TV9 Hindi | Edited By: शशांक शेखर

Dec 23, 2020 | 1:22 PM

ब्रिटेन में कोरोना के नए रूप (New coronavirus strain in the UK) सामने आने से तात्कालिक असर जरूर दिख रहा है, लेकिन तमाम इंडिकेटर बता रहे हैं कि देश की इकॉनमी में उम्मीद से बेहतर सुधार (Economic recovery) हो रहा है. ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक नवंबर महीने में सभी प्रमुख इंडिकेटर में सकारात्मक बदलाव आए हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना के असर से पूरी तरह मुक्त होने में अभी वक्त लगेगा.

Care Ratings इकनॉमिक कमबैक मीटर (CECM) के आधार पर अगस्त का स्कोर 0.58, सितंबर का स्कोर 1.1, अक्टूबर का स्कोर 1.79 और नवंबर का स्कोर 2.62 रहा है. CECM स्कोर में 0-5 स्कोर को ‘on comeback path (सुधार के रास्ते पर)’ माना जाता है, जबकि 5-8 के बीच स्कोर को कमबैक माना जाता है. ऐसे में इकॉनमी सुधार के रास्ते पर जरूर है, लेकिन सही मायने में सुधार इंडिकेटर्स से काफी दूर है.

5 मिनट में 25 लाख रुपए तक पर्सनल लोन दे रही ये कंपनी, ऐसे करें अप्लाई

इकॉनमी की सेहत का हाल

केयर रेटिंग्स इकॉनमी में सुधार को मुख्य रूप से तीन पहलुओं- प्रोडक्शन, कंजप्शन और इन्वेस्टमेंट के आधार पर मापता है. प्रोडक्शन के मोर्च पर इकॉनमी की सेहत का कैलकुलेशन पावर जेनरेशन, ई-वे बिल, नॉन ऑयल गोल्ड इंपोर्ट के आधार पर तैयार किया जाता है. कंजप्शन का अंदाजा पैसेंजर्स कार औ दोपहिया वाहनों की बिक्री, पेट्रोल कंजप्शन और जीएसटी कलेक्शन के आधार पर निकाला जाता है. इन्वेस्टमेंट का मापतौल बैंक क्रेडिट में तेजी और बाजार में कितना कर्ज बांटा गया, इस आधार पर किया जाता है.

किसान आंदोलन के बीच पिछड़ी पंजाब की इकोनॉमी, हरियाणा के लोग हैं पंजाबियों से 1.5 गुना ज्यादा अमीर

सर्विस सेक्टर में तेजी से सुधार

इंडियन इकॉनमी में सर्विस सेक्टर का बहुत बड़ा योगदान है. पिछले दो महीने से इस सेक्टर में सुधार दिख रहा है. सर्विस पीएमआई इंडेक्स (Services Purchasing Managers Index) नवंबर महीने में 53.7 रहा, जबकि अक्टूबर में यह 54.1 रहा था. 50 से ऊपर स्कोर को सुधार माना जाता है. 50 से नीचे के स्कोर को गिरावट के रूप में देखा जाता है.

मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई में मामूली गिरावट

हालांकि मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई इंडेक्स (Manufacturing PMI Index) में थोड़ी गिरावट आई है. नवंबर महीने में यह 56.3 था जो अक्टूबर के महीने में 58 तक पहुंच गया था. दूसरी तरफ नवंबर महीने में निर्यात में मामूली गिरावट दर्ज की गई. पिछले साल के मुकाबले नवंबर में निर्यात में 8.7 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई थी.

कंजप्शन में आया सुधार

हालांकि कंजप्शन के मोर्चे पर नवंबर में अच्छी खबर आई थी. नवंबर में पैसेंजर्स वीइकल की बिक्री में 4.7 फीसदी की तेजी दर्ज की गई थी. शॉपरट्रैक की रिपोर्ट के मुताबिक दिवाली और दशहरा के दौरान रीटेल डिमांड में काफी तेजी आई थी. पिछले साल के मुकाबले इसमें 44 फीसदी की गिरावट थी, लेकिन लॉकडाउन के बाद पहले फेस्टिव सीजन में अच्छी डिमांड रही.

दमदार रेंज व जबरदस्त स्पीड के साथ ,अगले हफ्ते इंडिया में लॉन्च होगी ये बाइक

मोटरसाइकल Hop OXO का टीजर जारी किया, जिसमें पता चल रहा है कि इसमें एलईडी हेडलैंप, डीआरएल, स्पीयर शेप टर्न इंडिकेटर्स, ट्रेंडी वाइजर जैसी खूबियों वाला अग्रेसिव लुक देखने को मिलेगा.

नई दिल्ली. भारत में इलेक्ट्रिक मोटरसाइकल की बिक्री वक्त के साथ बढ़ रही है. जिसकी सबसे बड़ी वजह है कि अब अलग-अलग कंपनियां इलेक्ट्रिक स्कूटर के साथ ही इलेक्ट्रिक बाइक भी बाजार में उतार रही है. अब इसी कड़ी में होप इलेक्ट्रिक मोबिलिटी अपनी फ्लैगशिप इलेक्ट्रिक मोटरसाइकल होप ऑक्सो लॉन्च करने जा रही है और आगामी 5 सितंबर को होप ओक्सो के लुक और फीचर्स के साथ ही कीमत और बैटरी रेंज का खुलासा हो जाएगा.

5000 से ज्यादा बुकिंग्स

पिछले महीने जैसे ही होप ऑक्सो की जैसी ही बुकिंग शुरू हुई, कुछ ही घंटों में इसकी 5000 से ज्यादा यूनिट्स बुक हो गई. फिलहाल हम आपको होप की इस हाई स्पीड इलेक्ट्रिक मोटरसाइकल के फीचर्स के बारे में आपको बताएंगे.

होपर इलेक्ट्रिक मोबिलिटी ने बीते दिनों अपनी फ्लैगशिप मोटरसाइकल Hop OXO का टीजर जारी किया और जिसमें पता चल रहा है कि इसमें एलईडी हेडलैंप, डीआरएल, स्पीयर शेप टर्न इंडिकेटर्स, ट्रेंडी वाइजर जैसी खूबियों वाला अग्रेसिव लुक देखने को मिलने वाला है. सिंगल सीट सेटअप के साथ आ रही इस इलेक्ट्रिक बाइक में बड़ा बैटरी पैक देखने को मिलेगा और जिसकी सिंगल चार्ज पर रेंज 100 किलोमीटर से लेकर 150 किलोमीटर के बीच हो सकती है. होप ऑक्सो की टॉप स्पीड 80-90 किलोमीटर प्रति घंटे होने की संभावना है.

आपको बता दें कि होप इलेक्ट्रिक मोबिलिटी भारत में अब तक इलेक्ट्रिक स्कूटर सेगमेंट में काफी एक्टिव है और इसके कई पॉपुलर मॉडल है और आने वाले समय में देशभर के 14 प्रमुख शहरों के 140 टचपॉइंट्स पर होप ऑक्सो इलेक्ट्रिक बाइक की बिक्री हो सकती है. होप इलेक्ट्रिक मोबिलिटी ने दावा किया है कि होप ऑक्सो को देशभर के 20 शहरों में एक लाख किलोमीटर से ज्यादा दूरी तक टेस्ट किया जा चुका है

महिंद्रा एक्सयूवी700 के किस वेरिएंट में दिए गए हैं कौनसे फीचर्स,सबकुछ जानिए यहां

एक लंबे इंतजार के बाद आखिरकार महिंद्रा ने मार्केट में नई एक्सयूवी700 एसयूवी को लॉन्च कर दिया है। इस कार के साथ ही महिंद्रा का नया लोगो भी लॉन्च हो गया है। लॉन्च सेरेमनी में महिंद्रा ने इसके वेरिएंट लाइनअप से पर्दा उठाते हुए इसमें दिए जाने वाले हाइलाइटेड फीचर्स के बारे में भी जानकारी दी। ऐसे में हम आपको बताने जा रहे हैं कि महिंद्रा एक्सयूवी700 के किस वेरिएंट में दिए गए हैं कौनसे फीचर्स:

वेरिएंट

टॉप फीचर्स

8-इंच टचस्क्रीन सिस्टम

7-इंच डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर

पावर-एडजस्टेबल ओआरवीएम (रियरव्यू मिरर के बाहर) टर्न इंडिकेटर्स के साथ

डे नाइट आईआरवीएम (इनसाइड रियरव्यू मिरर)

17-इंच स्टील व्हील

वेरिएंट

टॉप फीचर्स

एमएक्स वेरिएंट में दिए गए फीचर्स के अलावा अन्य फीचर्स-

10.25-इंच डिस्प्ले (टचस्क्रीन और डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर)

अमेजन एलेक्सा कनेक्टिविटी

वायरलेस एंड्रॉइड ऑटो और एपल कारप्ले

कनेक्टेड कार टेक 60+ फीचर्स के साथ

साउंड मूड के साथ 6-स्पीकर साउंड सिस्टम

एलईडी डीआरएल और फ्रंट फॉग लैंप

स्टील व्हील कवर के साथ 17 इंच व्हील

एएक्स3 रिएंट में दिए गए फीचर्स के अलावा अन्य फीचर्स-

17 इंच ड्यूल टोन अलॉय व्हील्स

सीक्वेंशल टर्न इंडिकेटर्स

एएक्स5 वेरिएंट में दिए गए फीचर्स के अलावा अन्य फीचर्स-

ड्राइवर ड्राउजीनैस डिटेक्शन

ड्युल जोन क्लाइमेट कंट्रोल

18 इंच डुअल-टोन अलॉय व्हील्स

लेदर रैप्ड स्टीयरिंग व्हील और गियर लीवर

मेमोरी फंक्शन के साथ 6-वे पावर-एडजस्टेबल सीट

महिंद्रा ने जानकारी दी है कि वो एक्सयूवी700 के साथ ऑप्शनल पैक्स की भी पेशकश करेगी जिनमें सोनी का प्रीमियम साउंड सिस्टम, एक 360-डिग्री कैमरा, वायरलेस चार्जिंग, ब्लाइंड व्यू मॉनिटरिंग और इलेक्ट्रिकली पॉप-आउट डोर हैंडल दिए जाएंगे। हालांकि इस पैक के बारे में ज्यादा जानकारी बाद में दी जाएगी।

इस कार में पेट्रोल और डीजल इंजन दोनों की चॉइस दी गई है जिनका स्पेसिफिकेशन इस प्रकार है:

रेटिंग: 4.35
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 287
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *