विदेशी मुद्रा दरों ऑनलाइन

परिचालन योजना

परिचालन योजना
कंपनी ने रेस्त्रां से कहा है कि वह सभी भुगतान और संविदात्मक दायित्वों को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है। रेस्तरां के पास 31 जनवरी, 2023 तक सभी अमेज़ॅन टूल और रिपोर्ट तक पहुंच होगी। इसके अलावा, कंपनी 31 मार्च तक अनुपालन से संबंधित मामलों के लिए भी समर्थन प्रदान करना जारी रखेगी। परिचालन योजना अमेज़ॅन ने बेंगलुरु से अपने पायलट फूड डिलीवरी व्यवसाय को बंद करने का फैसला किया है। वार्षिक परिचालन योजना समीक्षा प्रक्रिया के भाग के रूप में। Amazon का कहना है कि वो इस फैसले को हल्के में नहीं ले रहे हैं। इसलिए कंपनी इन सभी चीजों को तुरंत बंद करने के बजाय चरणबद्ध तरीके से बंद कर रही है। कंपनी के मुताबिक मौजूदा ग्राहकों और पार्टनर्स को ध्यान में रखते हुए यह बदलाव धीरे-धीरे किया जाएगा। इसके अलावा कंपनी का कहना है कि वह इन फैसलों से प्रभावित परिचालन योजना कर्मचारियों को सहयोग प्रदान कर रही है।

Amazon ने बंद कर दिया ये सब काम, एक बिजनेस पर तो अगले महीने से ही लग जाएगा ताला! जानिए क्या है वजह

दुनिया के चौथे सबसे अमीर व्यक्ति जेफ बेजोस (Jeff Bezos) के नेतृत्व वाली अमेजन (Amazon) अब पूरा फोकस अपने कोर बिजनेस पर करने का मन बना रही है. इसके मद्देजनर कंपनी ने बड़े कदम उठाना भी शुरू कर दिया है. इस क्रम में बीते दिनों अमेजन ने भारत में अपनी फूड डिलीवरी सर्विस (Food Delivery) को बंद करने का ऐलान किया और इसके तुरंत बाद एड-टेक वर्टिकल से भी पीछे हटने की घोषणा कर दी. अब कंपनी ने देश में अपनी डिस्ट्रीब्यूशन सेवाओं (Distribution Services) को भी बंद करने जा रही है.

सर्विस बंद करने की ये है वजह!

बिजनेस टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, टेक और ई-कॉमर्स की दिग्गज कंपनी अमेजन फूड डिलीवरी (Amazon Food Delivery) और एड-टेक वर्टिकल Amazon Academy के बाद भारत में अपनी ड्रिस्टीब्यूशन सर्विसेज को बंद कर सकती है. इसमें कहा गया है कि कंपनी अब अपने मुख्य व्यवसाय पर ध्यान केंद्रित परिचालन योजना करने का प्लान बना रही है और दूसरे सेक्टर्स में कटौती कर रही है. अमेजन डिस्ट्रीब्यूशन मुख्य रूप से बेंगलुरु, हुबली और मैसूर में संचालित है. डिस्ट्रीब्यूशन यूनिट कंपनियों से फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स लेती हैं और उन्हें रिटेलर्स को डिस्ट्रीब्यूट करने का काम करती हैं.

सरकार की इंडियन एयरलाइन्स कंपनियों के लिए बड़ी छूट. अब एक साल के लिए किराए पर ले सकेंगे बड़े विमान

India Airline can take planes on lease (Representative Image)

India Airline can take planes on lease (Representative Image)

gnttv.com

  • नई दिल्ली,
  • 28 नवंबर 2022,
  • (Updated 28 नवंबर 2022, 8:43 AM IST)

B777 विमानों को किया जाएगा शामिल

नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा भारतीय एयरलाइनों के लिए नियमों में ढील दिए जाने के बाद एक और सुविधा शुरू की है. कंपनियां अब एक साल तक के लिए वेट लीज पर बड़े आकार के विमान ले सकती हैं. समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, देश को हवाई यातायात के लिए एक प्रमुख अंतरराष्ट्रीय केंद्र बनाने के प्रयासों को आगे बढ़ाने के लिए यह कदम उठाया गया है. अभी तक वाइड बॉडी वाले विमानों को वेट लीजिंग की अनुमति केवल छह परिचालन योजना महीने तक के लिए दी जाती थी.

एक साल के लिए किराए पर ले सकेंगे
मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि नियमों में ढील दी गई है और वाइड-बॉडी विमानों को संचालित करने की इच्छा रखने वाली एयरलाइनों को ऐसे विमानों को एक साल तक के लिए वेट लीज पर संचालित करने की अनुमति दी जाएगी. इंडिगो ने कहा कि उसने नागरिक उड्डयन मंत्रालय से संपर्क किया है और पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, छह महीने की अवधि के लिए भारतीय वाहकों को वेट/डैम्प लीज विमान की अनुमति देने के लिए मंत्रालय की मंजूरी के बारे में बताया गया.

Mukhyamantri Nishulk Dava Yojana: आवेदन फॉर्म, योग्यता व प्रक्रिया

जैसे कि आप समस्त नागरिक जानते हैं हमारे भारत में अनेक लोग ऐसे हैं जो वित्तीय हालात कमजोर होने की वजह से दवाइयां खरीदने में सक्षम नहीं है । ऐसे समस्त लोगों के लिए केंद्र और प्रदेश गवर्नमेंट के माध्यम से अनेक तरह की परियोजनाओं का परिचालन होता है । इन परियोजनाओं द्वारा निशुल्क दवाइयां मुहैया करवाई जाती है । राजस्थान गवर्नमेंट भी ऐसी ही एक योजना का परिचालन करती है । जिसका नाम Mukhyamantri Nishulk Dava Yojana है । इस योजना द्वारा प्रदेश के लोगों को निशुल्क दवाएं मुहैया करवाई जाती है । इस आर्टिकल द्वारा आप सभी को मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना से जुड़ी पूर्ण ब्यौरा प्रदान कर दिया जायेगा । आप इस आर्टिकल को पढ़कर निशुल्क दवा स्कीम के तहत निवेदन करने से सम्बंधित सूचना हासिल कर पाएंगे । जिसके सिवाय आप सभी को Mukhyamantri Nishulk Dava Yojana 2022 का मकसद, खूबियाँ, फायदा, योग्यता और महत्त्वपूर्ण कागज़ात से सम्बंधित सूचना भी प्रदान कर दी जाएगी ।

परिचालन योजना

,

टेक न्यूज डेस्क - दुनियाभर की टेक कंपनियों में मंदी का असर साफ देखा जा सकता है। इसके असर से बचने के लिए अमेजन समेत ट्विटर और फेसबुक जैसी कंपनियों ने भी बड़े पैमाने पर छंटनी की है। अब खबर आई है कि अमेरिकी डिलीवरी सर्विस कंपनी Amazon भारत में फूड डिलीवरी सर्विस बंद करने जा रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंपनी ने पार्टनर रेस्टोरेंट्स को ईमेल के जरिए इस फैसले की जानकारी दी है। इसका मतलब है कि अब यूजर्स Amazon Food से खाना ऑर्डर नहीं कर पाएंगे। इससे पहले कंपनी एजुकेशन प्लेटफॉर्म को भी बंद करने का फैसला ले चुकी है। Amazon ने मई 2020 में भारत में फूड डिलीवरी सर्विस शुरू की थी। परिचालन योजना मनीकंट्रोल के मुताबिक, ई-कॉमर्स कंपनी 29 दिसंबर से इस सर्विस को बंद कर देगी। Amazon ने एजुकेशन टेक बंद करने की घोषणा के एक दिन बाद ही फूड डिलीवरी सर्विस बंद करने का फैसला किया है। इससे पहले कंपनी दुनियाभर में तैनात हजारों कर्मचारियों की छंटनी करने का फैसला कर चुकी है।

पीएम किसान योजना भूमि धारक किसानों की वित्तीय आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए केंद्र सरकार की एक मुख्य योजना

PM Kisan Yojana

पीएम किसान योजना भूमि धारक किसानों की वित्तीय आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए केंद्र सरकार की एक मुख्य योजना है। प्रत्यक्ष लाभ अंतरण के माध्यम से किसान परिवारों के बैंक खातों में प्रति वर्ष 6000 रुपये का वित्तीय लाभ हस्तांतरित किया जाता है। उच्च आर्थिक स्थिति की कुछ श्रेणियों को इस योजना से बाहर रखा गया है।

माननीय प्रधानमंत्री द्वारा 24 फरवरी, परिचालन योजना 2019 को शुरू की गई यह महत्वाकांक्षी योजना दुनिया की सबसे बड़ी प्रत्यक्ष लाभ अंतरण योजनाओं में से एक है। यह योजना परिचालन योजना परिचालन योजना करोड़ों किसानों तक लाभ पहुंचाने में सफल रही है, और ख़ास बात यह है कि इसमें बीच का कोई बिचौलिया शामिल नहीं है। भारत सरकार लाभार्थियों के पंजीकरण और सत्यापन की प्रक्रिया में पूर्ण पारदर्शिता बनाए रखते हुए, इकठ्ठा राशि जारी करने वाले कार्यक्रमों परिचालन योजना के दौरान माननीय प्रधानमंत्री द्वारा एक बटन दबाने के कुछ ही मिनटों के भीतर योजना का लाभ हस्तांतरित करने में सफल रही है।

रेटिंग: 4.50
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 600
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *