विदेशी मुद्रा दरों ऑनलाइन

डिस्ट्रीब्यूशन इंडिकेटर

डिस्ट्रीब्यूशन इंडिकेटर
बेहतरीन मौका! Cooler की कीमत में AC जैसी महाठंडक, बस कमरे के कोने पर रख दें फिर देखें कमाल.. 6

जीरो क्यों चुनें?

2010 में स्थापित, JEORO एक वैश्विक अग्रणी डेवलपर और बेहतर गुणवत्ता वाले प्रोसेस इंस्ट्रूमेंटेशन का निर्माता रहा है, जिसमें हमारे R & D केंद्र, विनिर्माण सुविधाएं, वेयरहाउसिंग और विसेंज़ा ITALY, शंघाई, Kunshan और Anhui चीन में सेवा स्थान हैं।

Anhui कारखाने को उच्च तकनीक नवाचार उद्यम के रूप में सम्मानित किया गया है और इसे ISO9001: 2015 अंतर्राष्ट्रीय गुणवत्ता प्रबंधन प्रणाली प्रमाणन पारित किया गया है।वार्षिक उत्पादन क्षमता सेंसर और उपकरणों के दो मिलियन सेट है।

बेहतरीन मौका! Cooler की कीमत में AC जैसी महाठंडक, बस कमरे के कोने पर रख दें फिर देखें कमाल..

Sansui Cooler

Desk : भारत में गर्मी का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है और लोगों की परेशानी भी बढ़ती जा रही है. एयर कंडीशनर की मांग भी बढ़ रही है, लेकिन माना जा रहा है कि एयर कंडीशनर की कीमत कभी भी बढ़ सकती है। ऐसे में लोगों को बजट की समस्या हो सकती है। आपको इस समस्या से बचाने के लिए आज हम आपके लिए एक ऐसा कूलर लेकर आए हैं जो मिनटों में आपके पूरे घर को ठंडा कर देगा, वो भी बिजली के आधे से भी कम खर्च में, तो आइए जानते हैं कौन सा है यह प्रोडक्ट और कितने का है. कीमत।

बेहतरीन मौका! Cooler की कीमत में AC जैसी महाठंडक, बस कमरे के कोने पर रख दें फिर देखें कमाल.. 1

बेहतरीन मौका! Cooler की कीमत में AC जैसी महाठंडक, बस कमरे के कोने पर रख दें फिर देखें कमाल.. 5

यह कौन सा उत्पाद है : हम जिस प्रोडक्ट की बात कर रहे हैं उसका नाम Sansui JSC50WIC-Vento 50 litres Window Air Cooler है, यह आकार में छोटा कूलर है जिसे आप अपने घर के किसी भी कोने में बिना जगह की कमी के सोचे रख सकते हैं। यह उत्पाद रिलायंस डिजिटल पर आसानी से उपलब्ध है।

बेहतरीन मौका! Cooler की कीमत में AC जैसी महाठंडक, बस कमरे के कोने पर रख दें फिर देखें कमाल.. 2

विशेषताएं क्या हैं : अगर इस दमदार कूलर की खासियतों की बात करें तो इसका कवरेज 240 वर्ग फुट तक जाता है। इसमें ग्राहकों को 4-वे एयर डिस्ट्रीब्यूशन भी दिया जाता है. इतना ही नहीं, यह कूलर 50 लीटर की क्षमता वाले इनवर्टर के साथ आता है। कूलर भी इन्वर्टर संगत है और वाटर लेवल इंडिकेटर के साथ आता है। इसमें आपको एक एंटी बैक्टीरियल हनीकॉम्ब पैड भी दिया जाता है जो आपको काफी सुविधा प्रदान करता है।

बेहतरीन मौका! Cooler की कीमत में AC जैसी महाठंडक, बस कमरे के कोने पर रख दें फिर देखें कमाल.. 3

बेहतरीन मौका! Cooler की कीमत में AC जैसी महाठंडक, बस कमरे के कोने पर रख दें फिर देखें कमाल.. 6

कितनी है कीमत और छूट : कीमत की बात करें तो इस कूलर पर आपको काफी छूट दी जा रही है। बता दें डिस्ट्रीब्यूशन इंडिकेटर कि इसकी एमआरपी 7,490 रुपये है और इसे ग्राहकों को 5,490 रुपये के ऑफर प्राइस पर दिया जा रहा था लेकिन इस पर आपको 4,990 रुपये की डील प्राइस दी जा रही है।

ये भी पढ़ें ये मिनी जेनरेटर है कमाल - 4 घंटे नॉनस्टॉप चलेगा TV, AC और पंखा, कीमत जान खुश हो जाएंगे आप..

1000 किग्रा 1200 किग्रा इलेक्ट्रिक पैलेट स्टेकर 1.6 - 3.5 एम वॉकी फोर्कलिफ्ट के साथ

1000kg 1200kgs Electric Pallet Stacker With 1.6 - 3.5M Walkie Forklift

* मल्टी-फंक्शनल स्मार्ट कंट्रोल हैंडल में एक एक्सेलेरेटर, रिवर्सिंग सेफ्टी बटन, लोअर रिलीज लीवर और पावर इंडिकेटर शामिल हैं, यह मोड को ड्राइव करने के लिए स्विच करने के कार्य के साथ भी है जब हैंडल एक ईमानदार स्थिति में होता है।
* कुंजी स्विच के एक अभिन्न डिजाइन के साथ-साथ आपातकालीन पावर-ऑफ बटन के साथ स्टेकर जो विद्युत प्रणाली की रक्षा कर सकता है, विद्युत शक्ति को बचा सकता है, और काम नहीं करने पर सुरक्षा सुनिश्चित कर सकता है।
* स्टेकर एक उच्च प्रदर्शन कर्टिस नियंत्रक और ड्राइव मोटर से सुसज्जित है, और उच्च गुणवत्ता और उपयोग में टिकाऊ पॉलीयूरेथेन व्हील से लैस है।वैज्ञानिक और उचित लेआउट रखरखाव में उत्कृष्ट प्रदर्शन और सुविधा सुनिश्चित करता है।
* उच्च अवशिष्ट लिफ्ट क्षमताओं के लिए व्यापक दृश्य और उच्च गुणवत्ता वाला मस्तूल और मस्तूल के माध्यम से सही दृश्य जो ऑपरेटर के लिए एक उत्कृष्ट अनुभव सुनिश्चित करता है और कार्य कुशलता में अत्यधिक वृद्धि करता है।
* चेसिस के प्रबलित डिजाइन के साथ उच्च गुणवत्ता वाला स्टील उच्च उठाने वाले ऑपरेशन के दौरान स्थायित्व और सुरक्षा सुनिश्चित करता है।

आवेदन पत्र

इसका उपयोग फैक्ट्री वर्कशॉप, एंटरप्राइज वेयरहाउस, लॉजिस्टिक्स एंड डिस्ट्रीब्यूशन सेंटर, जनरल केबिन, कैरिज और कंटेनर में फूस के सामान को लोड और अनलोड करने के लिए किया जाता है।

मानक विन्यास

· कर्टिस कंट्रोलर, अलब्राइट कॉन्टैक्टर, amp वाटरप्रूफ पावर कनेक्टर

· अद्वितीय ड्राइव शॉक अवशोषण तकनीक, ऑपरेटिंग प्रदर्शन बेहतर है

· उच्च आवृत्ति एमओएस एकीकृत नियंत्रण प्रणाली चलने और उठाने के सुचारू नियंत्रण को सुनिश्चित करती है

· मस्तूल फोर्कलिफ्ट स्पेशल सेक्शन स्टील से बना है, जो अधिक टिकाऊ है और ख़राब करना आसान नहीं है।

· शॉक एब्जॉर्बर के साथ पेडल स्टैंडिंग ड्राइविंग

· इलेक्ट्रोमैग्नेटिक क्लच पावर लॉस ब्रेक, रीजनरेटिव ब्रेकिंग, रिवर्स ब्रेकिंग, रैंप पर एंटी स्लाइडिंग ब्रेकिंग और अन्य मल्टीपल ब्रेकिंग फंक्शन

· वोल्टेज संरक्षण समारोह के तहत बैटरी और हाइड्रोलिक अधिभार संरक्षण उपकरण पूरी तरह से फोर्कलिफ्ट काम करने की सुरक्षा सुनिश्चित करता है।

· जब कांटा अधिकतम ऊंचाई से अधिक हो जाता है, तो स्वचालित पावर-ऑफ फ़ंक्शन ऑपरेटर की सुरक्षा सुनिश्चित करता है।

ये जल के दुश्मन हैं, ये जीवन के दुश्मन हैं

ये जल के दुश्मन हैं, ये जीवन के दुश्मन हैं

ALLAHABAD: भीषण गर्मी में पेयजल के लिए पूरे देश में हाहाकार मचा है। लोग बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहे हैं। इस विकट परिस्थिति में भी शहर में सबकी नजरों के सामने जीरो रोड पर प्रतिदिन हजारों लीटर पानी बर्बाद हो रहा है। जीवन रूपी जल की इस बर्बादी की जानकारी सभी जिम्मेदार अधिकारियों व कर्मचारियों को है। लेकिन सरकारी सिस्टम है, इसके लिए कोई इनिशिएटिव लेने को तैयार नहीं है।

डेढ़ लाख लीटर की बनी है टंकी

जीरो रोड स्थित स्वरूपरानी पार्क में जीरो रोड, मोहत्सिमगंज, चौक, घंटाघर एरिया के मोहल्लों व गलियों में पेयजल सप्लाई के लिए जेएनएनयूआरएम से डेढ़ लाख लीटर का टैंक बनवाया गया है। ताकि खुसरोबाग से आए पानी को यहां स्टोर कर पुराने शहर के महत्वपूर्ण इलाकों में पेयजल आपूर्ति की जा सके। करीब तीन वर्ष पूर्व टैंक बनाने का कार्य पूरा हुआ। लेकिन टैंक बनने के बाद भी यह अनुपयोगी बना हुआ है। क्योंकि एक-दो मोहल्लों को छोड़ कर अन्य इलाकों को अभी तक कनेक्ट नहीं किया जा सका है।

प्रतिदिन आपूर्ति और बर्बादी

टैंक से पुराने शहर के मोहल्लों में वाटर सप्लाई की कनेक्टिविटी भले ही नहीं हो सकी है। लेकिन खुसरोबाग से पर डे स्वरूपरानी पार्क में बने अंडरग्राउण्ड वाटर टैंक में पानी आने का सिलसिला जारी है। अधिक खपत न होने की वजह से टैंक थोड़ी देर में ही बंद हो जाता है। उसके बाद टैंक ओवरफ्लो होने लगता है और पानी पार्क की बाउण्ड्री को क्रास करते हुए जीरो रोड की सड़क व नालियों में बहने लगता है। पानी बहने का सिलसिला तब तक जारी रहता है, जब तक खुसरोबाग से वाटर सप्लाई जारी रहती है।

बर्बादी डिस्ट्रीब्यूशन इंडिकेटर रोकने का इंतजाम नहीं

स्वरूपरानी पार्क में बने अंडरग्राउण्ड टैंक से हो रहे पानी की बर्बादी को रोकने का कोई इंतजाम नहीं है। टैंक में न तो सेंसर काम कर रहा है न ही कोई इंडिकेटर लगाया गया है। यही नहीं ओवरफ्लो पानी को डिस्ट्रीब्यूशन में यूज डिस्ट्रीब्यूशन इंडिकेटर लाने की भी कोई व्यवस्था नहीं है।

क्या कहती है पब्लिक

स्वरूपरानी पार्क में बनी टंकी और पर डे हो रही पानी की बर्बादी जेएनएनयूआरएम योजना के तहत मिले धन की बर्बादी का प्रत्यक्ष उदाहरण है। क्योंकि जलनिगम द्वारा कराए गए कार्य में काफी कमियां हैं। जिसकी वजह से जल संस्थान के अधिकारी हैंडओवर लेने से मना कर रहे हैं।

सत्येंद्र चोपड़ा, पार्षद

एक तरफ पूरे देश में पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है, वहीं अपने इलाहाबाद में हजारों लीटर पानी लापरवाही, योजना में कमी की वजह से पर डे बर्बाद हो रहा है। ये केवल लापरवाही नहीं बल्कि बहुत बड़ा अपराध है। जिसकी सजा जिम्मेदार अधिकारियों व लोगों को मिलनी चाहिए। जल्द से जल्द इस बर्बादी को रोकने के लिए अधिकारियों को कदम उठाना चाहिए।

बाबा अवस्थी, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता

जिम्मेदार अधिकारियों की लापरवाही से एक तरफ जहां पर डे हजारों लीटर डिस्ट्रीब्यूशन इंडिकेटर पानी सड़क पर बहता है। वहीं पानी की वजह से आस-पास के भवनों की नीव कमजोर हो रही है। काफी देर तक पानी लगा रहता है।

विपिन अग्रवाल संचालक, अजंता सिनेमा

पर डे हजारों लीटर पानी की बर्बादी को देख कर दुख होता है। साफ चमकता हुआ जो पानी लोगों के घरों में, मोहल्लों में व पानी के लिए तड़प रहे लोगों की प्यास बुझाने के लिए इस्तेमाल होना चाहिए वह डिस्ट्रीब्यूशन इंडिकेटर सड़क पर व नाली में बह जाता है।

विनय तिवारी, लोहा व्यापारी

स्वरूपरानी पार्क से पर डे टैंक ओवर फ्लो होने के बाद पानी सड़क पर बहता है, इसकी जानकारी मुझे नहीं है। आज तक किसी अधिकारी या कर्मचारी ने मुझे इस संबंध में नहीं बताया है। अगर ऐसा हो रहा है तो यह गलत है। ओवरफ्लो को डिस्ट्रिब्यूशन से जोड़ना चाहिए या फिर पम्पिंग होनी चाहिए। बात करके व्यवस्था की जाएगी।

स्वरूपरानी पार्क में बने टैंक से पर डे पानी की बर्बादी की जानकारी हमें है, जिसकी शिकायत कई बार जलनिगम के अधिकारियों से की डिस्ट्रीब्यूशन इंडिकेटर गई है। लेकिन कोई सुनता ही नहीं है। टैंक बनाने में कई कमियां हैं। जिसकी वजह से जल संस्थान भी हैंडओवर को तैयार नहीं है। प्रशासनिक अधिकारियों को इस ओर सख्त कदम उठाना चाहिए।

मेयर, नगर निगम इलाहाबाद

जेएनएनयूआरएम के तहत बने अंडरग्राउण्ड टैंक में पानी की बर्बादी डिस्ट्रीब्यूशन इंडिकेटर रोकने के लिए नहीं लगा है इंडिकेटर, सेंशर मशीन भी नहीं करता है काम।

जलनिगम ने टैंक को अभी तक जल संस्थान को नहीं किया है हैंडओवर

चौदह इंच की जगह छह इंच की पाइप लाइन बिछाई गई है, जिसकी वजह से पानी बैक मारने लगता है

भारत में सबसे सस्ती टॉप 5 बीएस 6 कारें – Alto से S-Presso तक

maruti alto vs renault kwid

अधिकांश कार निर्माताओं ने बीएस6 नार्म्स लागू होने के बाद अपने पूरे लाइनअप को अपडेट किया है, यहां 5 सबसे सस्ती बीएस 6 कारें हैं

भारत में बीएस6 नार्म्स लागू होने के बाद सभी प्रमुख कार निर्माता कंपनियों ने अपने मौजूदा कार के मॉडल और भविष्य में आने वाले सभी मॉडलों को लेकर अपनी तैयारी शुरू करते हुए बीएस-6 उत्सर्जन मानक के अनुसार अपने सभी प्रोडक्टस को अपडेट कर दिया है। तो आइये इस लेख में आपकों टॉप 5 बीएस 6 कारों की जानकारी से रूबरू कराते हैः

1. मारुति सुजुकी ऑल्टो ( Maruti Suzuki Alto)

मारुति सुजुकी ऑल्टो एक दशक से अधिक समय तक भारत में सबसे अधिक बिकने वाली और सबसे सस्ती कारों में से एक है। मारुति सुजुकी आल्टो की कीमत 2.94 लाख रूपए से लेकर 4.36 लाख रूपए (एक्स-शोरूम) तक जाती है और यह 796 सीसी इंजन से संचालित होचती है। कार का नया बीएस6 मॉडल 7.0 इंच टचस्क्रीन जैसी सुविधाओं से लैस है, जो एंड्रॉइड ऑटो और एप्पल कारप्ले को सपोर्ट करता है।

Maruti alto 15 year1

कार के अन्य फीचर्स में ब्लूटूथ कनेक्टिविटी, ड्यूल-टोन इंटीरियर, एयर कंडीशनर हीटर के साथ, पावर स्टीयरिंग, पावर विंडो, रिमोट लॉकिंग और मैन्युअल एडजस्टेबल रियरव्यू मिरर्स, एंटी-लॉक ब्रेकिंग सिस्टम (ABS), इलेक्ट्रॉनिक ब्रेक डिस्ट्रीब्यूशन (EBD), रिवर्स पार्किंग सेंसर, सीटबेल्ट रिमाइंडर, स्पीड अलर्ट सिस्टम और ड्यूल फ्रंट एयरबैग्स आदिस है । इन सारी सुविधाओं से लैस ऑल्टो बीएस6 कार अपने आप को भारत की सबसे सस्ती कार का दावेदार बनाती है।

2. मारुति सुजुकी एस-प्रेसो (Maruti S-Presso)

ये कार अगली सबसे सस्ती बीएस 6 कार है। एस-प्रेसो लुक में शायद आपको अच्छी न लगे लेकिन इस कार का प्रदर्शन लाजवाब है। हालांकि सुरक्षा को लेकर मारुति की कार पर हमेशा ही प्रश्नचिन्ह लगता आया है, लेकिन इस बार कंपनी ने इस हिस्से पर कुछ गंभीर कार्य किया है और दो एयरबैग और रिवर्स पार्किंग सेंसर से लैस है। मारुति सुजुकी एस-प्रेसो की कीमत 3.70 लाख रूपए से लेकर 4.99 लाख रूपए (एक्स-शोरूम) तक जाती है।

Suzuki Spresso_-2

मारुति एस-प्रेसो 1.0 लीटर इंजन के साथ आती है और इसमें 5 स्पीड मैन्युअल और 5 स्पीड AMT ट्रांसमिशन दिया गया है। इसके अलावा ABS (एंटी-लॉक-ब्रेकिंग सिस्टम), हाई-स्पीड वार्निंग अलर्ट, ड्राइवर / सह-ड्राइवर सीटबेल्ट रिमाइंडर और वाहन इमोबिलाइज़र स्टेन्डर्ड फिट के रूप में शामिल है। सुरक्षा फीचर्स जैसे कि रिमोट सेंट्रल लॉकिंग, स्पीड-सेंसिटिव डोर लॉक, प्री-टेंशनर्स के साथ फ्रंट सीट बेल्ट्स और पार्किंग ब्रेक वार्निंग केवल वीएक्सआई (VXi) और VXi + वेरिएंट में ही उपलब्ध है

3. रेनो क्विड (Renault Kwid)

Renault kwid

लिस्ट में तीसरी दावेदार के रूप में सबसे सस्ती रेनो Kwid है। भारत में ये कार ऑल्टो के10 (Alto k10), डैटसन रेडी गो(Datsun Redi go) और मारूति सुजुकी एस-प्रेसो (Maruti Suzuki S-Presso) के मुकाबले है। रेनो क्विड की कीमत 2.92 लाख रूपए से लेकर 5.01 लाख रूपए (एक्स-शोरूम) तक जाती है। kwid 0.8 लीटर और 1.0 लीटर के दो इंदन में आता है और इसके फीचर में रियर पार्किंग सेंसर्स, 8.0-इंच टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम (टॉप-एंड वेरिएंट तक सीमित), रियर-सीट आर्मरेस्ट और स्पीड-अलर्ट आदि हैं।

4. मारुति सुजुकी सेलेरियो (Maruti Suzuki Celerio)

मारुति मॉडल सेलेरियो ह बी 1-सेगमेंट हैचबैक में एएमटी विकल्प के साथ पेश होने वाली पहली मारुति कार बन गई थी। हालांकि सेलेरियो अब अपनी लाइफ के अंतिम चरण में है और इसे जल्द ही एक नए मॉडल से बदल दिया जाएगा। मारुति सुजुकी सेलेरियो की कीमत 4.41 लाख रूपए से लेकर 5.58 लाख रूपए (एक्स-शोरूम) तक जाती है। मारुति सेलेरियो 1.0 लीटर इंजन आता है।

maruti celerio

कार के अंदर की तरफ ऑल-ब्लैक कलर थीम अपहोल्स्ट्री के साथ सिल्वर हाइलाइट्स दिया गया है, गाड़ी के चारों-दरवाज़े पॉवर विंडो के साथ हैं। इसमें 2.0 इंफोटेनमेंट सिस्टम, इलेक्ट्रिक पावर स्टीयरिंग, ड्यूल-एयरबैग दिया गया है, इसे ईबीडी के साथ एबीएस, स्पीड अलर्ट सिस्टम और रियर पार्किंग सेंसर से कार को लैस किया गया है।

5. हुंडई सैंट्रो (Hyundai Santro)

सैंट्रो को कभी भारत में सबसे सस्ती कार माना जाता था लेकिन इस कार का नया अपग्रेडड वर्जन अपने खरीददारों को अपनी ओर आकर्षित करने में विफल रहा है। कार के बाहरी डिजाइन और सुविधाओं के बारे में बात करें तो, नई सैंट्रो को 2018 में वापस पेश किया गया था वो आधुनिक-स्पोर्टी डिजाइन के साथ आती डिस्ट्रीब्यूशन इंडिकेटर डिस्ट्रीब्यूशन इंडिकेटर है जो इसके सिग्नेचर कैस्केडिंग क्रोम फ्रंट ग्रिल को भी उजागर करती है। हुंडई सैंट्रो की कीमत 4.57 लाख रूपए से लेकर 6.20 लाख रूपए (एक्स-शोरूम) तक जाती है। हुंडई सैंट्रो में 1.1 लीटर पेट्रोल इंजन आता है।

Hyundai Santro

बाहर के अन्य विशेषताओं में फ्रंट फॉग लैंप, ओआरवीएम पर टर्न इंडिकेटर, ड्यूल-टोन बंपर, 14 इंच के पहिए और रियर टेललाइट शामिल हैं। अंदर की बात करें तो, इसमें ऑल-न्यू 7-इंच टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम, ड्राइवर साइड एयरबैग, EBD के साथ ABS, स्पीड अलर्ट सिस्टम, रियर पार्किंग सेंसर और रियर AC वेंट दिए गए हैं।

रेटिंग: 4.56
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 492
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *