विदेशी मुद्रा दरों ऑनलाइन

चार्ट सेटिंग

चार्ट सेटिंग
Additional emoji descriptions and definitions are copyright © Emojipedia. Emoji images displayed on Emojipedia are copyright © their respective creators, unless otherwise noted.

गोचर ग्रह के राशि-परिवर्तन से होता है

🏃 Person Running

A person running, with a large stride and arms outstretched. May be wearing a running shirt.

This emoji does not specify a gender, but is shown as a man on most platforms. See also: 🏃‍♀️ Woman Running or 🏃‍♂️ Man Running.

Person Running was approved as part of Unicode 6.0 in 2010 under the name “Runner” and added to Emoji 1.0 in 2015.

🚩 Previously displayed a gendered appearance, now shown as gender neutral on most platforms.

  • 🏃 Person Running
  • 🏃🏻 Person Running: Light Skin Tone
  • 🏃🏼 Person Running: Medium-Light Skin Tone
  • 🏃🏽 Person Running: Medium Skin Tone
  • 🏃🏾 Person Running: Medium-Dark Skin Tone
  • 🏃🏿 Person Running: Dark Skin Tone
  • 🏃‍♂️ Man Running
  • 🏃🏻‍♂️ Man Running: Light Skin Tone
  • 🏃🏼‍♂️ Man Running: Medium-Light Skin Tone
  • 🏃🏽‍♂️ Man Running: Medium Skin Tone
  • 🏃🏾‍♂️ Man Running: Medium-Dark Skin Tone
  • 🏃🏿‍♂️ Man Running: Dark Skin Tone
  • 🏃‍♀️ Woman Running
  • 🏃🏻‍♀️ Woman Running: Light Skin चार्ट सेटिंग Tone
  • 🏃🏼‍♀️ Woman Running: Medium-Light Skin Tone
  • 🏃🏽‍♀️ Woman Running: Medium Skin Tone
  • 🏃🏾‍♀️ Woman Running: Medium-Dark Skin Tone
  • 🏃🏿‍♀️ Woman Running: Dark Skin Tone

आज का गोचर चार्ट सेटिंग क्या है?

वैदिक ज्योतिष की बुनियाद ग्रहों पर टिकी हुई है और बिना ग्रह व नक्षत्र के ज्योतिष विद्या की कल्पना नहीं की जा सकती है। आपने चार्ट सेटिंग अक्सर जन्म कुंडली में 12 भागों में बंटी एक तालिका देखी होगी। दरअसल ये तालिका कुंडली के 12 भावों में बैठे ग्रहों की स्थिति को दर्शाती है। इससे पता चलता है कि कौन सा ग्रह किस भाव में बैठा है और वह कैसा फल देगा। चूंकि ग्रहों की चाल में निरंतर परिवर्तन होते हैं और इसी आधार पर राशिफल या भविष्यफल की गणना की जाती है।

वैदिक ज्योतिष में नवग्रहों का बड़ा महत्व है। इन्हीं ग्रहों की दशा व दिशा के आधार पर किसी भी व्यक्ति के आने वाले कल का अनुमान लगाया जा सकता है। आज होने वाली ग्रहों की गोचरीय स्थिति की जानकारी मिलने से आप विभिन्न क्षेत्रों में होने वाली हलचलों का पूर्वानुमान लगा सकते हैं। मान लीजिये आप अगर यह जानना चाहते हैं कि नौकरी के लिहाज से आज का दिन मेरा कैसा रहने वाला है, तो आप शनि की गोचरीय स्थिति से इसका अंदाजा लगा चार्ट सेटिंग सकते हैं। क्योंकि वैदिक ज्योतिष में शनि को सेवा और कर्म का कारक कहा गया है और यह नौकरी में होने वाले परिवर्तन को दर्शाता है। ठीक इसी प्रकार दूसरे ग्रह भी अन्य विषयों के कारक हैं-

आज के गोचर से होने वाले लाभ

वैदिक ज्योतिष के अनुसार ग्रहों की वर्तमान स्थिति से भविष्य में होने वाले परिवर्तनों का अंदाजा लगाया जा सकता है, इसलिये ग्रहों के गोचरीय स्थिति जानने के कई फायदे होते हैं।

  • ग्रहों की स्थिति और उनका आपके जीवन पर होने वाला प्रभाव
  • अशुभ फल देने की स्थिति में ग्रह शांति के आवश्यक उपाय
  • नौकरी, व्यापार, शिक्षा में होने वाले परिवर्तन की जानकारी
  • प्रेम, विवाह और पारिवारिक जीवन पर ग्रहों का पड़ने वाला असर

नवग्रहों की सभी 12 भावों में स्थिति का फल

सूर्य- सूर्य चंद्र राशि से 3,6,10 और 11 वें भाव में श्रेष्ठ फल प्रदान करता है। जबकि शेष भावों में सूर्य का फल ज्यादा चार्ट सेटिंग अच्छा नहीं माना गया है।

चंद्र- चंद्रमा जन्मकालीन राशि से 1,3,6,7,10 और 11 वें भाव में शुभ फल देता है। वहीं चंद्रमा के 4,8 और 12 वें भाव में रहने से बुरे फल मिलते हैं।

मंगल- मंगल चंद्रराशि से 3,6,10 और 11 वें भाव में शुभ तथा 4,8 और 12 वें भाव में अशुभ फल देता है।

बुध- बुध ग्रह चंद्रराशि से 2,4,6,8,10 और 11 वें भाव में शुभ फल देता है, बाकी अन्य भावों में यह अशुभ फल प्रदान करता है।

गुरु- गुरु चंद्र राशि से 2,5,7,9 और 11 वें भाव में शुभ फल देता है। शेष भावों में अशुभ फल देता है।

शुक्र- शुक्र चंद्र राशि से 1,2,3,4,5,8,9,11 और 12 वें भाव में शुभ फल देता है। शेष भावों में अशुभ फल देता है।

रेटिंग: 4.76
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 275
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *